Search

सोलर वाटर पंप के फायदे (BRIO PUMP -Solar PUMP)


1. बाहरी उर्जा की खपत नही

सौर उर्जा कृषि पंप लगाने का सबसे बड़ा फायदा यही है की आपको किसी भी तरह के बाहरी महंगे उर्जा स्त्रोत की जरुरत नहीं रहती है आप पूर्ण रूप से आत्मनिर्भर बन जाते है यहाँ पर आप जब चाहे तब जितना चाहे उतना बिजली को उपयोग में ले सकते है !! आपको बस सूर्य की रोशनी और सोलर पैनल की जरूरत होती है जिसके माध्यम से सुदूर इलाकों में भी अपने फसल को पानी पहुंचा सकते हैं। आजकल तकनीक के द्वारा आप रिमोट एरिया में रहते हुए भी इसके पानी के बहाव को ऑपरेट कर सकते हैं।

2. बिल से छुटकारा

यदि आप लाखो रुपये देकर कनेक्शन करवा देते है लेकिन यही तक सिमित नही रहता है आपको जिन्दगी भर बिल भरना होता है लेकिन यदि आप सौर उर्जा कृषि पंप का उपयोग करते है तो आपको शुरुआत में एक ही बार खर्च करना है फिर जिन्दगी भर मुफ्त में बिजली का फायदा उठाना होता है यहाँ पर आपको किसी भी तरह का बिल के नाम खर्च नही करना है यहाँ पर देखते है बहुत सारी सोलर कंपनिया है जो 25 से 30 सालो तक की वारंटी देती है और यहाँ पर अगर कोई किसान सोलर पर खर्च करता है तो अधिकतम 4 साल में वह फ्री हो जाता है !!

3. रात्रिकालीन सिंचाई नही

अगर आपके दिन भर बिजली की कटोती रहती है और पूरी रात बिजली रहती है तो आप समझ सकते है की आपका क्या हाल बनता है लेकिन आप अगर सौर उर्जा कृषि पंप का उपयोग करते है तो आपको सिर्फ दिन में ही सिंचाई करनी है क्योकि सूर्य दिन में अच्छी रोशनी सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक रखता है यानि की यह समय तो आपके सरकारी नोकरी जैसा है और दिनभर अपनी इच्छानुसार सिंचाई कर सकते है रात में ही करनी पड़ती है क्योकि रात को सोलर पेनल कार्य करते ही नही !!

4. जहरीले जानवरों से बचाव

यदि आप रात में खेतो में सिंचाई करते है पानी के कारण जहरीले जानवर जैसे साप, आदि बहार निकलते है किसानो को काटने का भय बना रहता है लेकिन आप सौर उर्जा कृषि पंप की तकनिकी को अपनाते है तो यह आपको दिन मे ही सिंचाई का मोका देती है रात में नही तो फिर तो जहरीले जानवरों का खतरा कम हो जाता है !!

5. आसान और विश्वसनीय

सौर ऊर्जा कृषि पंप को ऑपरेट करना आसान होता है क्योंकि इसमें बहुत ही कम उपकरण लगे होते हैं। इसके अलावा पारम्परिक पंप की तरह बिजली कटौती, कम वोल्टेज, उच्च वोल्टेज से सॉर्ट सर्किट, ट्रांसफार्मर जलना, स्टार्टर, केबलो का जलना आदि जैसी समस्या नहीं होती है। दूरदराज के इलाकों में जहां बिजली की आपूर्ति नहीं होती है, वहां भी सौर ऊर्जा कृषि पंप बहुत ही कारगर सिद्ध होता है। लिहाजा विशेष परिस्थिति में भी सोलर पंप किसानों की मदद के लिए फायदेमेंद हो सकता है ।

6. पर्यावरण के अनुकूल

अन्य पम्पों की तरह सौर ऊर्जा कृषि पंप ध्वनि और वायु प्रदूषण के कारण नहीं बनते हैं। यह पर्यावरण के अनुकूल हैं क्योंकि यह किसी भी ऐसे ईंधन पर नहीं चलते हैं जो प्रदूषण की वजह बनते हैं। इसके माध्यम से कोई भी हानिकारक पदार्थ मुक्त नहीं होता है जिससे कि पर्यावरण के लिए समस्या पैदा हो सके। पारम्परिक ईंधन जहां पर्यावरण के लिए घातक होते हैं, वहीं सौर ऊर्जा एक बेहतरीन विकल्प के तौर पर उभरा है।

7. आर्थिक रूप से लाभकारी

लोगो का मानना है सौर उर्जा बहुत जयादा खर्चीला होता है लेकिन इसे इस्तेमाल करने में कोई खर्च नहीं आता है जहा देखते है पारम्परिक उअर्जा स्त्रोत में इंधन का हर रोज खर्च उठाना पड़ता है यदि आप इंजिन का उपयोग करते है हर रोज डीजल यदि आप पारम्परिक बिजली तो हर महीने बिल का खर्च लेकिन यहाँ पर सौर उर्जा में एक बार खर्च फिर जिन्दगी भर के लिए मुफ्त में उर्जा !!

8. आसान रख-रखाव

सौर उर्जा का रख रखाव की बात करे तो जीरो खर्च पर और इतना आसन है की हर कोई कर सकता है इसमें किसी भाई तरझ की समस्या प्रभावित नही करती है जैसे टूटे जैसे तूफान बिजली के खम्बो को गिरा देता है कही केबल जल जाती है तो कही उच्च वोल्टेज से मोटर पर समस्या लेकिन सौर उर्जा में यह सब नही है !! यहाँ पर आपको सप्ताह में १ बार पेनल्स को किसी कपडे की सहायता से पानी के साथ साफ कर देना है तूफान में आप स्ट्रक्चर को मजबूत बांध कर हवा आंधी से बचा सकते है !!

9. स्थापना और स्थानांतरण आसान

सौर ऊर्जा कृषि पंप को स्थापित करना आसान होता है। किसी विशेषज्ञ से बात कर आप खुद ही इसे स्थापित कर पाएंगे। किसी भी बाहरी लोगों की कोई मदद की जरूरत नहीं पड़ती है। साथ ही अगर आप इसे मौसम या अपनी जरूरतों को देखते हुए स्थानांतरित करना चाहते हैं तो भी बहुत ही आसानी से ऐसा कर पाएंगे। अगर पंप को एक जगह से दूसरे जगह ले जाने की जरूरत पड़ती है तो सौर ऊर्जा कृषि पंप इसके लिए सही होता है। आज की तकनिकी में ट्रोली सोअर भी बाजारों में देखने को मिलती है जहा चाहो वहा लेजाकर आप पंप को चला सकते है !!

10. ज्यादा उत्पादन

सौर उर्जा से किसानो को समय पर सिंचाई मिल जाती है जिससे फसल के उत्पादन में भारी बढ़ोतरी मिलती है वाही पर अगर 5 दिन बिजली की कटोती आ जाये तो इसका सीधा प्रभाव फसल के उत्पादन पर पड़ता है !!

इस प्रकार आज के इस ब्लॉग में आपने देखा कि सौर ऊर्जा कृषि पंप कई तरह से फायदेमंद साबित होता है। खासकर खेती के लिए इसके उपयोग से किसान पूरी तरह निश्चिन्त हो सकते हैं। सूखे इलाका हो या कम पानी का इलाका , सोलर पैनल के इस्तेमाल से कम पानी वाले कुंओं से भी कृषि का काम किया जा सकता है। सिंचाई लागत कम होने से कृषि धीरे-धीरे छोटे-मंझोले किसानों के लिए भी अधिक मुनाफा देने वाला साबित हो सकता है। बिना किसी अतिरिक्त लागत और बोझ के सिंचाई का काम करना हो तो सौर ऊर्जा पंप एक बेहतरीन विकल्प है।



27 views0 comments

Recent Posts

See All